6kW Solar System से क्या-क्या चला सकते है – बिजली बचत और पर्यावरण संरक्षण का बेहतरीन उपाय

WhatsApp Group Join Now

6kW Solar System: आज के समय में सोलर पैनल का उपयोग बिजली की खपत को कम करने और पर्यावरण संरक्षण के लिए एक महत्वपूर्ण कदम बन चुका है। अगर आप एक स्कूल, क्लिनिक या ऑफिस के लिए सोलर सिस्टम लगाने की सोच रहे हैं, तो 6 किलोवाट का सोलर सिस्टम एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है।

6 किलोवाट का सोलर सिस्टम प्रति दिन लगभग 30 यूनिट बिजली का उत्पादन कर सकता है। सामान्यत: एक औसत घर में इतनी बिजली की खपत मुश्किल होती है, लेकिन अगर आपके घर में एयर कंडीशनर, रूम हीटर, वाटर हीटर जैसे बिजली-खपत वाले उपकरण हैं, तो 6 किलोवाट का सोलर सिस्टम आपके लिए सही रहेगा।

अगर आपकी दैनिक बिजली खपत लगभग 30 यूनिट है, तो 6 किलोवाट के सोलर पैनल आपके लिए आवश्यक होंगे। इससे आप दिनभर की बिजली की आवश्यकता को पूरा कर सकेंगे, बिना किसी बाहरी बिजली स्रोत पर निर्भर हुए।

सही सोलर इनवर्टर का चयन

आप एक 7.5kVA का सोलर इनवर्टर लेकर उस पर 6 किलोवाट के सोलर पैनल लगा सकते हैं। इस सिस्टम पर आप 6 किलोवाट तक का लोड चला पाएंगे और पैनल 7.5 किलोवाट तक के लगा सकेंगे। यह सिस्टम उन लोगों के लिए है, जिन्हें दिन में 30 यूनिट तक बिजली की आवश्यकता होती है।

6 किलोवाट सोलर पैनल से चलने वाले उपकरण

आजकल सोलर पैनल का उपयोग बढ़ता जा रहा है, क्योंकि यह बिजली की खपत को कम करने के साथ-साथ पर्यावरण संरक्षण में भी सहायक है। यदि आप अपने घर पर 6kW Solar System लगाते हैं, तो आप कई उपकरण चला सकते हैं। आइए जानते हैं कि 6 किलोवाट के सोलर पैनल से कौन-कौन से उपकरण चलाए जा सकते हैं और कैसे।

1. ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम

ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम में आपके सोलर पैनल और ग्रिड की सप्लाई मिलकर काम करती है। इसका मतलब है कि आप जितना भी लोड चलाना चाहें, बिना किसी चिंता के चला सकते हैं, क्योंकि जब भी सोलर पैनल से पर्याप्त बिजली नहीं मिलेगी, तब ग्रिड सप्लाई आपका लोड संभाल लेगी।

2. ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम

अगर आप ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम लगाते हैं, तो आपको एक सही सोलर इनवर्टर का चयन करना होगा। सही इनवर्टर से ही आप 6 किलोवाट के सोलर पैनल का सही उपयोग कर सकते हैं।

उपकरणों की सूची जिन्हें आप 6kW Solar System से चला सकते हैं

यहां हम उन उपकरणों की सूची दे रहे हैं जिन्हें आप 6 किलोवाट सोलर सिस्टम से चला सकते हैं:

  • 2 टन इनवर्टर एयर कंडीशनर
  • सीलिंग फैन
  • कूलर
  • ट्यूब लाइट
  • एलईडी बल्ब
  • एलईडी टेलीविजन
  • सेट टॉप बॉक्स
  • म्यूजिक सिस्टम
  • लैपटॉप
  • डेस्कटॉप कंप्यूटर
  • लेजर प्रिंटर (छोटा)
  • जूसर मिक्सर ग्राइंडर
  • टोस्टर (800W)
  • रेफ्रिजरेटर (500L तक)
  • वाशिंग मशीन

जब आप इन उपकरणों का उपयोग करते हैं, तो ध्यान रखें कि इनका कुल लोड 6 किलोवाट से अधिक न हो। एक साथ सभी उपकरण चलाने से आपके Solar System पर अत्यधिक भार पड़ सकता है, जिससे उपकरण सही से नहीं चल पाएंगे।

Read More

3kW सोलर सिस्टम लगवाएं केवल 7 हजार रुपये में, इससे सस्ता कुछ नहीं!

अब बिजली का बिल होगा जीरो, सोलर कूलर चलाने के लिए आवश्यक सोलर पैनल और इन्वर्टर, आज ही घर लाएं

6KW सोलर इनवर्टर का चयन

मार्केट में 6KW सोलर पैनल सपोर्ट करने वाले कई इनवर्टर उपलब्ध हैं, लेकिन सही चुनाव करना महत्वपूर्ण है। यदि आप कम बजट में एक अच्छा इनवर्टर लेना चाहते हैं, तो आपको PWM टेक्नोलॉजी का सोलर इनवर्टर लेना चाहिए। यह तकनीक सस्ती होती है और पर्याप्त प्रदर्शन प्रदान करती है।

यदि आप बेहतर और उन्नत तकनीक का इनवर्टर चाहते हैं, तो MPPT (Maximum Power Point Tracking) टेक्नोलॉजी का सोलर इनवर्टर सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है। यह तकनीक अधिक महंगी होती है, लेकिन यह अधिक कुशलता से काम करती है और अधिक ऊर्जा उत्पन्न करने में सक्षम होती है।

निष्कर्ष

सोलर पैनल का उपयोग न केवल बिजली की बचत करता है, बल्कि यह पर्यावरण संरक्षण में भी सहायक है। सही सोलर पैनल, इनवर्टर, और बैटरी का चयन करके आप अपने घर या कार्यालय को सोलर एनर्जी से चला सकते हैं और बिजली की कटौती की समस्या से निजात पा सकते हैं। अपने ऊर्जा खर्चों में बचत करने और पर्यावरण संरक्षण में योगदान देने के लिए आज ही सोलर पैनल लगवाएं।

WhatsApp Group Join Now

नमस्ते मेरा नाम नितेश मौर्या है और मैं अपडेट न्यूज का मुख्य संपादक हूँ अपडेट न्यूज एक ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल है जहां पर आपको रोज़ की योजनाओं, पालिटिक्स, बिजनेस इत्यादि से संबंधित ताज़ा खबर एक अपडेट मिलती रहेगी।

Leave a Comment

x